पश्चिम बंगाल में पुरुलिया में अपने दो कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में आज भाजपा ने बंद बुलाया है

पश्चिम बंगाल में पुरुलिया में अपने दो कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में आज भाजपा ने बंद बुलाया है

पश्चिम बंगाल में पुरुलिया में अपने दो कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में आज भाजपा ने बंद बुलाया है

कोलकाता (जेएनएन)। पश्चिम बंगाल में पुरुलिया में अपने दो कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में आज भाजपा ने बंद बुलाया है। भाजपा ने इस मामले की जांच राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) से कराने की मांग की है। हालांकि ममता सरकार ने सीआइडी को घटना की जांच सौंप दी है। लेकिन भाजपा किसी भी सूरत में इस मामले को छोड़ने के मूड में नहीं है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने बंगाल की ममता सरकार को निशाने पर लेते हुए उसे नाकाम करार दिया है।

शाह का बयान
अमित शाह ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में एक और कार्यकर्ता दुलाल कुमार की हत्या के बारे में जानकर दुखी हूं। राज्य में हो रही यह हिंसा शर्मनाक और अमानवीय है। तृणमूल सरकार राज्य में कानून-व्यवस्था कायम रखने में नाकाम रही है।’
भाजपा ने बंद का किया आह्वान
बता दें कि पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में तीन दिनों के भीतर भाजपा के दो कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई। पहले 18 साल के दलित त्रिलोचन महतो की पेड़ से लटकती लाश मिली थी, उसके बाद 30 साल के दुलाल कुमार का शव हाई टेंशन पोल से लटका मिला। भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर हत्या का आरोप लगाया है, वहीं तृणमूल व पुलिस इसे हत्या मानने से इनकार कर रही है। राज्य सरकार ने दोनों मामलों की सीआईडी जांच का आदेश दिया है। दूसरी ओर इस घटना के खिलाफ भाजपा ने रविवार को पुरुलिया में 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है।
पुलिस पर फूटा ग्रामीणों का गुस्सा
शनिवार को इस घटना को लेकर ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने करीब आठ घंटे तक शव को सड़क पर रखकर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया। शव कब्जे में लेने पहुंची पुलिस पर पथराव भी किया गया। जवाब में पुलिस ने लाठीचार्ज कर उग्र भीड़ को खदेड़ा। इसमें कई लोग जख्मी हो गए।
रात आठ बजे निकला था घर से
सूत्रों के अनुसार बलरामपुर के डाभा गांव का निवासी दुलाल कुमार भाजपा के ओबीसी मोर्चा का कार्यकर्ता था। शुक्रवार रात करीब आठ बजे वह बाइक लेकर घर से निकला था। रात 10 बजे तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की, लेकिन वह नहीं मिला। शनिवार सुबह करीब छह बजे बांसीटार मोड़ के पास हाईटेंशन लाइन के टावर में दुलाल का शव रस्सी के फंदे से लटकता मिला। उसकी बाइक गांव के बाहर एक तालाब के पास पड़ी थी। मृतक की कमर पर एक गेरुआ रुमाल भी बंधा हुआ था। ग्रामीणों के अनुसार शनिवार को तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी की पुरुलिया में सभा होनी थी। इसके लिए वह शुक्रवार को ही पहुंच गए थे। सभा के दिन ही भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई। ग्रामीणों ने घटना की सीबीआइ जांच कराए जाने की मांग की है। चार दिन पहले अभिषेक बनर्जी ने एक प्रदर्शन के दौरान कहा था कि वह पुरुलिया जाकर उसे विरोधी शून्य कर देंगे। पुरुलिया के भाजपा जिला अध्यक्ष विद्यासागर चक्रवर्ती ने तृणमूल समर्थकों पर घटना को अंजाम देने का आरोप लगाया है। गौरतलब है कि 30 मई को भी बलरामपुर के सुपुरडी गांव के पास जंगल में पेड़ पर भाजपा कार्यकर्ता त्रिलोचन महतो (18) का शव लटकता हुआ मिला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *