dasara today special celebration of mysore ka dussehra 2018

Dasara today special celebration of mysore ka Dussehra 2018

नवरात्रि की खत्म होती है आ जाता है और दशहरा के आने पर सभी अपने घरों में ढेर सारी तैयारियां करते हैं घरों को तो आते हैं और घरों को नया नया बिल्कुल सुनहरा बना देते हैं ताकि घर देखने में अच्छा लगे और उनके घर में एक नई रोशनी दिखाई दे जैसे ही दशहरा आता है तो दशहरे में लोग अपने अपने घरों में सभी जगह दिए जलाते हैं उन दिनों का महत्व शायद आप नहीं जानते होंगे

जैसे ही नवरात्रि खत्म होती है नवरात्रि खत्म होते ही 9 दिनों के जो जितने शुभ दिन माने जाते हैं दिनों के बाद भी दशहरा आता है और उस दशहरा में जैसा कि आप सभी जानते हैं कि भगवान श्री राम ने रावण का वध करके दशहरा का शुभारंभ किया था जानी जब भगवान राम ने रावण का वध किया था उसके बाद दशहरा मनाया जाता है दशहरा लोगों के घरों में ख्याल आता है और एक उत्साह भी लाता है हिंदू ही आज के मुताबिक ऐसा माना जाता है कि दशहरा के आने पर जो विशेषण हैं जो लोगों के अंदर आ जाते हैं उन सभी का दहन हो जाता है दशहरे में रावण के बाबुल के सभी जो भी जो भी पाप है वह मिट जाते हैं पाप के लीची क्रोध मोह लोभ इन सभी चीजों का त्याग हो जाता है

ऐसा हिंदू रीति-रिवाज के मोत अब एक और पुराणों के इस में सबसे महत्वपूर्ण और जानने वाली बात यह है कि दशहरा की पूजा हमें बिल्कुल सही समय पर करना चाहिए और कुछ गुणों को मिटा देना चाहिए हम लोग घरों में सभी जगह दिए नदियों का महत्व है कि घर में कहीं पर भी अंधेरा ना रहे अंधेरे की अंधेरा बिल्कुल ही घर से खत्म हो जाए और एक नया सवेरा एक नया उजाला घर में आए ताकि जो भी घर के अवगुण हैं सभी मिट जाए और घर में सुख शांति हो जाए आपको एक महत्वपूर्ण जानकारी दे दो आपको बता दूं कि मैसूर यानी मैसूर में सबसे महत्वपूर्ण है दशहरे की पूजा सबसे धूमधाम से मनाया जाता है दशहरा उस दिन शहर की पूरी गलियों में कहीं पर भी अंधेरा नहीं मिलता है और सबसे बड़ी बात यह है कि उस दिन मैसूर में हाथियों को सजा कर पूरे शहर में यात्रा निकाली जाती है और पूरे शहर में उजाला किया जाता है ताकि कहीं पर भी अंधेरा ना रहे मैसूर का दशहरा बहुत ही शुभ और शेष माना गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *