Puzzle In Hindi – Is Kisaan Ki Samasya Ka Hal Dhoondhie ?

Puzzle In Hindi – Is Kisaan Ki Samasya Ka Hal Dhoondhie ?

funny joke official website for Hindi Paheli, Puzzle In Hindi Is Kisaan Ki Samasya Ka Hal Dhoondhie ?

Puzzle In Hindi Is Kisaan Ki Samasya Ka Hal Dhoondhie ?

 

Ek Din Ek Kisan Ka Apne Padosi Ke Saath Jagda Ho Gaya.

Aur Jagda Itna Bad Gaya Ki Gaao
Ki Panchayat Me Ja Pahucha.

Panchayat Ke Sabhi Logo ne Kisan
Se pucha Ki Kis Baat Pe Jagda Hua Hai.

Tab Kisan Ne Bataya Ki Kuch Din Pehele Maine Apne Is Padosi Se Ek kuwa Karida Tha.

Aur Ab Jab Me Us Kuwe Se Pani le
Raha Hu To Yh Mujhe Se Us Pani Ke Badle paise Maang Rha Hai.

Panchayat Ke Sabhi logo Ne Us Padosi Ko Gusse Se Dekha Aur Pucha Ki Tum Ne To Kuwa Bech diya Hai Na Ab Pani Ke Paise kyo Maang Rahe Ho.

To Us Padosi Ne Kaha Maine to Srif Kuwa Baicha Hai Pani Nahi.

Padosi Ki Yhe Baat Sun ker Sabhi
Log Heran Ho Gaye Aur Kisan Rone Laga.

Panchayat Ke Sabhi Log Samje Gaye The Ki Padosi Bemaani Kar Raha Hai.

is Gao Me Jab Bhi Koi Badi Mosibat Aathi thi to Pados Ke Gao Se manhi laal Ji Ko Bulaya Jata Tha.

Is Liye Panchayat Ne Mani laal Ji Ko Bulaya Aur Kisan Ki Puri Dasta Sunai.

Mani Laal Ji ne Puri Baat Sunne Ke Baad Jat Se Kisan Ka Faisla Ker Diya.

Aur Kisan Ko Kuwe Ke saath Pani Bhi Mil Gaya.

To Ab Aap Mujhe Bataiye Ki Kaise Mani Laal Ji Ne Faisla Kiya Hoga ?

 

To Ab Aap Mujhe Bataiye Ki Kaise Mani Laal Ji Ne Faisla Kiya Hoga ?

 

Hindi Text :- इस किसान की समस्या का हल ढूंढिए | Puzzle In Hindi funny joke official website for Hindi Paheli,

 

एक दिन एक किसान का अपने पडोसी के साथ झगड़ा हो गया.

और झगड़ा इतना बढ़ गया की गाव की पंचायत में जा पंहुचा.

पंचायत के सभी लोगो ने किसान से पुचा की किस बात पे झगड़ा हुआ है.

तब किसान ने बताया की कुछ दिन पहेले मेने अपने इस पडोसी से एक कुआ ख़रीदा था.

और अब जब में उस कुआ से पानी ले रहा हु तो यह मुझे से उस पानी के बदले पैसे मांग रहा है.

पंचायत के सभी लोगो ने उस पड़ोसी को गुस्से से देखा और पुचा की तुम ने तो कुआ बेच दिया है न अब पानी के पैसे क्यू मांग रहे हो.

तो उस पडोसी ने कहा मेने तो श्रीफ कुआ ही बेचा है पानी तो नहीं.

पोदोसी की यह बात सुन कर सभी लोग हेरान हो गए और किसान रोने लगा.

पंचयात के सभी लोग समज गए थे की यहे पडोसी किसान से बेमानी कर रहा है.

अब पंचायत को पडोसी की इस बात जवाब देने में मुश्किल हो रही थी.

इस गाव में जब भी बड़ी परेशानी आती है तो पड़ोस के गाव से एक विद्वान् मणि लाल जी को बुलाते थे.

गाव वालो ने मणि लाल जी को बुलाया और किसान की पूरी दस्ता सुनाई.

तो मणि लाल जी ने जट से इस परेशानी का हल निकल दिया.

और किसान को कुआ के साथ पानी भी मिल गया.

 

तो अब आप मुझे बताइये की मणि लाल जी ने किसान की परेशानी का हल कैसे मिल गया ?

Request: Answer Please Fill Comment Box

 

Agar Dost Aap Is Paheli ka Answer Jante Ho To aap Humhe Jarur Comment Box Me Bataye.

Agar aapka Answer Right Huwa To Hum Answer Ko Hamari Website Pe post Karenge Aapke Naam Saath

Thanks So much all Friends Please Support My Website |
दोस्तों हमेशा खुश राहों, मुस्कुराते राहों, और स्वस्थ रहो, खुद भी हँसो और दुसरो की भी हँसाऔ,

Also Like This Paheli Please Visit us :-  
पहेली : बिना कोणी मोड़े आप कैसे खाना खा सकते हो ?

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *