शक की इन्तहा: – तुझे भाभी जी की कसम !

शक की इन्तहा: – तुझे भाभी जी की कसम !

शक की इन्तहा: - तुझे भाभी जी की कसम !

 

1. पलकों में आंसू और दिल,

में दर्द सोया है,

हंसने वालों को क्या पता,

रोने वाला किस कदर,

रोया है।

 

2. शक की इन्तहा:

बीवी- तुम्हारे शर्ट एक भी बाल नहीं हैं?

पति- हाँ तो क्या हुआ?

बीवी- मैं पूछती हूँ कौन है वो टकली।

 

3. सब कहते हैं दिल लगाकर पढ़ाई किया करो,

मैंने जब दिल लगाया तो

पढ़ाई की ही वाट लग गई।

 

4. सिर दर्द होता हो

बदन दर्द होता हो

आंखें दर्द करती हों

आलस आते हों

इन सब बीमारियों का रामबाण इलाज

अपने सिर पर सात बार मोबाइल घुमाकर

तालाब में फेंक दें।

 

5. काम की बात:

किसी शादी में कोई लड़की अगर आपकी तरफ़

ध्यान से देखे तो इसका गलत अर्थ ना निकालें,

हो सकता है वो आपकी प्लेट में रखे आइटम

को देख कर सोच रही हो कि

अरे ये भी है, मैंने तो लिया ही नहीं।

 

6. बॉयफ्रेंड- डार्लिंग तेरे घर में सब कैसे मान गए

हमारी शादी के लिए?

गर्लफ्रेंड- कुछ नहीं एक सवाल का जवाब

दिया और मान गए

बॉयफ्रेंड- क्या पूछा?

गर्लफ्रेंड- उनहोंने पूछा लड़का क्या कर रहा है

तो मैंने कहा पेट के अंदर लात मार रहा है।

 

7. अजीब उलझन है ग़ालिब:

वो कहती है पीना छोड़ दो

तुम्हें मेरी कसम,

दोस्त कहते हैं पीना पड़ेगा

तुझे भाभी जी की कसम।

 

also like :-

हिंदी पहेली – कोई ऐसा कमरा बताओ जहा न खिड़की हो न दरवाज हो ?

One thought on “शक की इन्तहा: – तुझे भाभी जी की कसम !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *