Sad Shayari Zindagi two line | Two line attitude Shayari in Hindi

Sad Shayari Zindagi two line | Two line attitude Shayari in Hindi
Reading Time: 6 minutes
Sad Shayari Zindagi two line | Two line attitude Shayari in Hindi
Rate this post

Sad Shayari Zindagi two line | Two line attitude Shayari in Hindi

Two line attitude Shayari in Hindi

Ѕааnsоn Κе Ѕіlsіlе Κо Νа Dо Ζіndаgі Κа Νааm,
Јееnе Κе Ва-Wајооd Вhі Маr Јааtе Наіn Κuсh Lоg. .!!


Κаrnі Наі Κhudа Ѕе Duаа Κі Теrі Моhаbbаt Κе Ѕіvа Κuсh Νа Міlе,
Ζіndаgі Ме Тu Міlе Ѕіrf Тu, Yа Рhіr Ζіndаgі Νа Міlе..!

 


Маіnе арnі khwаіshоn kо dееwаr mаі сhunwа dіуа,
Κhаmа-khаn zіndаgі mаіn аnаrkаlі bаnkе nасh rаhі thі.

 


Маіnе Вhі Ваdаl Dіуе Наіn Ζіndаgі Κе UsООl,
Аb Јо Yааd Κаrеgа, sіrf Wаhі Yааd Rаhеgа.

 



Іtnі thоkаr dеnе kе lіуе shukrіуа аеу zіndаgі,

Сhаlnе kа nаhі sаhі sаmbhаlnе kа hunаr tоh аа gауа.

 



किसी की मजबूरी का….मजाक ना बनाओ यारों..!!

ज़िन्दगी कभी मौका देती है तो कभी धोखा भी देती है..!!

 


यूँ तो मोहब्बत की सारी हकीक़त से वाकिफ है हम,
पर उसे देखा तो सोचा चलो ज़िन्दगी बर्बाद कर ही लेते है..

 


ज़िन्दगी कभी आसान नही होती इसे आसान बनाना पड़ता हे
कुछ नज़र अंदाज करके कुछ को बर्दाश्त करके..!!

 


तुम्हे हक है अपनी जिन्दगी जैसे चाहे जीयो तुम,
ज़रा एक पल के लिये सोचना मेरी ज़िन्दगी हो तुम….॥

 


“पैसा” कमाने के लिये इतना वक़्त⏰खर्च ना करो की,

“पैसे” खर्च करने के लिये ज़िन्दगी में वक़्त ही ना मिले।

 


घड़ी⏰ की टिक टिक को मामूली न समझो…!
बस यूँ समझ लीजिये ज़िन्दगी के पेड़ पर कुल्हाड़ी के वार है…

 


दुनिया का सबसे बेहतरीन रिश्ता वहीं होता है

जहाँ एक हल्की सी मुस्कराहट और छोटी सी माफ़ी से ज़िन्दगी दोबारा पहले जैसी हो जाती है..

 


एक अजीब सी दौड़ है ये ज़िन्दगी….
जीत जाओ तो कई अपने पीछे छूट जाते हैं, हार जाओ तो अपने ही पीछे छोड़ जाते हैं ।

 


जिस दिन आपने अपनी जिन्दगी को खुलकर जी लिया,
वही दिन आपका है, बाकी तो सिर्फ केलेंडर की तारीखें हैं।

 


“शौक पूरे कर लो
ज़िन्दगी तो खुद ही पूरी हो जाएगी एक दिन…”

 


जिन्दंगी को समझना बहुत मुशकिल हैं.
कोई सपनों की खातिर “अपनों” से दूर रहता हैं…..
और , कोई “अपनों” के खातिर सपनों से दूर !

 


ज़रा मुस्कुराना भी सीखा दे ऐ ज़िंदगी
रोना तो पैदा होते ही सीख लिया था…

 


मत सोच इतना….
जिन्दगी के बारे में ,
जिसने जिन्दगी दी है…
उसने भी तो कुछ सोचा होगा…!!!

 


खुद की Ѕеlfіе निकालना सेक़ेन्डों का काम है….

लेक़िन खुद की Іmаgе बनानें में जिन्दगी गुजर जाती है।

 


पहाड़ चढ़ने का एक उसूल है.. झुक कर चलिए .. दौडीये नही ..

ज़िंदगी भी बस इतना ही मांगती है .

 


“अपनी ‘ज़िंदगी’ मे हर किसी को ‘अहमियत’ दीजिये…”

क्योकी जो ‘अच्छे’ होंगे वो ‘साथ’ देंगे… और
जो ‘बुरे’ होंगे वो ‘सबक’ देंगे….!!!!

 


ज़िदगी जीने के लिये मिली थी,
लोगों ने सोचने में ही गुज़ार दी….

 


जिंदगी को इतना सिरियस लेने की जरूरत नही यारों,

यहाँ से जिन्दा बचकर कोई नही जायेगा!

भरोसे पे ही “जिंदगी” टीकी है

वरना कौन कहता “फ़िर मिलेंगे”..

 


सिर्फ सांसें चलते रहने को ही ज़िंदगी नहीं कहते..
आँखों में कुछ ख़्वाब और दिल में…उम्मीदें होना भी ज़रूरी हैं !!

 


एक प्यारी सी लाईन उलटी या
सीधी कैसे भी पढ़ो अच्छा लगता
है।
” है जिंदगी तो अपने है”

 


“हर रोज गिरकर भी,
मुक्कमल खड़े हैं…!

ए जिंदगी देख,
मेरे हौसले तुझसे भी बड़े हैं …!!”…..”:

 


ज़िंदगी में कभी कभी अपनो
से हारना सीखो,
देख लेना जीत जाओंगे तुम,,,

 


तूफान भी आना ,…
जरुरी है जिंदगी में..

तब जा कर पता चलता है …
,”कौन” हाथ छुड़ा कर भागता है..
और
“कौन” हाथ पकड़ कर…

 


जिन्दगी की हर सुबह कुछ शर्ते लेकर आती है,
और
जिन्दगी की हर शाम कुछ तजुर्बे देकर जाती है…!!

 


 

जो करीब थे वो जाने कब दूर हो गये_
और ! जो दूर थे वो जाने कब करीब हो गये♥

 


कभी तकदीर का मातम कभी दुनिया का गिला….
मंजिल-ऐ-इश्क में हर गम पे रोना आया …!!

 


किसी भी मोड़ पर अगर हम बुरे लगें
तो ज़माने को बताने से पहले एक बार हमें जरुर बता देना

 


 

Dаrd-о-Ghаm Ніјr-о-Fіrааq Gаuhаr Наіn Науаt Κе
Ваs Ѕаkооn Ѕе Јо Guzаr Јауе, Ζіndаgі Νаhі

 


 

Моhаbbаt Меіn Ζіndаgі Κе Νuksааn Ѕе Νаа Gауе
Нum Dіl Ѕе То Gауе Ваs Јааn Ѕе Νаа Gауе

 


Іk Нааdsе Κі Таrаh Ζіndаgі Guzаr Gауі
Аur Нum Ѕосhtе Тhе Κе Ѕhаuk Меіn Ваsаr Κі

 


Јееtа Нun То Таdарtа Нun Ваhut
Маr Јаungа То Тhіk Rаhungа

 


Ае Ζіndаgі Κуun Κаrtі Но Аzааb Іtnе
Маіnе Κуа Κаbhі Тuјhе Κuсhh Κаhа Наі

 


Теrі Ζulf Κе Ресhо-Κhаm Наіn Јіs Таrаh
Маіnе Ζіndаgі Ваsаr Κі Наі Оs Таrаh

 


Ζіndа Rаkhеgа Меrа Ѕukhаn Мuјhе Qауаmаt Таk
Іs Јіsm Κі Маut Ѕе Маіn Маr Νаhі Ѕаktа

 


Ζіndаgі Νе Наr Раhlu Ре Раrkhа Наі Мuјhе
Меrа Таzurbа Тumhаrе Веhаd Κааm Аауеgа

 


दर्द हद से गुज़रे तो शायद राहतें भी मिलें
हमदर्दों ने मगर जीना मुहाल किया हुआ है

 


तुम हसरत-ए-जिंदगी होते तो जी भी लेते हम
शर्ते-ज़िंदगी हो तुमसे बिछड़ के मर जाएंगे हम

 


चाहत थी या दिल्लगी या यूं ही मन भरमाया था …
याद करोगे तुम भी कभी, किससे दिल लगाया था ….

 


हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी।
ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है।

 


ये झूठ है… के मुहब्बत किसी का दिल तोड़ती है ,
लोग खुद ही टुट जाते है, मुहब्बत करते-करते|

 


ऊँची इमारतों से मकां मेरा घिर गया,
कुछ लोग मेरे हिस्से का सूरज भी खा गए।

 


गर तेरी नज़र क़त्ल करने मे माहिर है तो सुन..
हम भी मर मर के जीने मे उस्ताद हो गए है|

 


दिल मेरा भी कम खूबसूरत तो न था,
मगर मरने वाले हर बार सूरत पे ही मरे !!

 


क्या बताओ यार तुझको प्यार मेरा कैसा है ….
चाँद सा नहीं है वो … चांद उसके जैसा है …

 


 

किसी की गलतियों को बेनक़ाब ना कर,
‘ईश्वर’ बैठा है, तू हिसाब ना कर।

 


ऐ दिल थोड़ी सी हिम्मत कर ना यार,
चल दोनों मिल कर उसे भूल जाते है।


मैं उसकी ज़िंदगी से चला जाऊं यह उसकी दुआ थी,
और उसकी हर दुआ पूरी हो, यह मेरी दुआ थी।


तुझे मुफ्त में जो मिल गए हम,
तु कदर ना करे ये तेरा हक़ बनता है।


रोना ही है ज़िन्दगी तो हँसाया क्यो..
जाना था दूर तो नज़दीक़ आया ही कयो..

 


तलब ये है की मै सर रखूँ तेरे सीने पे ….
और तमन्ना ये की मेरा नाम पुकारती हो धड़कने तेरी …

 


रोने से और इश्क़ मे बे-बाक हो गए..
धोए गए हम इतने कि बस पाक हो गए।

 


कुछ लोग जमाने में ऐसे भी तो होते हैं..
महफिल में तो हंसते हैं तन्हाई में रोते हैं !!

 


तूने मेरा आज देख के मुझे ठुकराया है…
हमने तो तेरा गुजरा कल देख के भी मोहब्बत की थी|


हमे हारने का शोख नहीँ, बस हम खेलते हे
उस अंदाज से की लोग मैदान छोड देते हैं..!!

 


कुछ इस तरह खूबसूरत रिश्ते टूट जाया करते हैं,
जब दिल भर जाता है.. तो लोग अक्सर रूठ जाया करते हैं..!!

 



काश कोई इस तरह वाकिफ हो मेरी ज़िंदगी से

की मै बारिश मे भी रोऊ और वो मेरे आंशु पढ़ ले ।

 


क्या ऎसा नहीं हो सकता के हम तुमसे तुमको माँगे,
और तुम मुस्कुरा के कहो के अपनी चीजें माँगा नहीं करते..!!

 


जो आज तेरे पास है वो हमेशा नहीं रहेगा,
कुछ दिन बाद तू आज जैसा नहीं रहेगा..!!

 


जब कागज़ पर लिखा मैंने माँ का नाम,
कलम अदब से बोल उठी हो गए चारों धाम..!!

 


सुनो, एकदम से जुदाई मुश्किल है,
मेरी मानों कुछ किश्तें तय कर लो..!!

 


ये जो तुम मेरा हालचाल पूछते हो,
बड़ा ही मुश्किल सवाल पूछते हो..!!

 



होता अगर मुमकिन तो… तुझे साँस बना कर रखते अपने दिल मे

तू रुक जाये तो मै नहीं , मै मर जाऊ तो तुम नहीं

 


फिर तेरी याद, फिर तेरी तलव, फिर तेरी बातें,
ऐसे लगता है ऐ दिल तुझे मेरा सकून नही आता..!!

 


तोड़ दो ना वो कसम जो खाई है,
कभी कभी याद कर लेने में क्या बुराई है..!!

 


सुकून की बातमत कर ऐ दोस्त.. बचपन वाला
‘इतवार’ जाने क्यूँ अब नहीं आता।

 


मैंने कहा बहुत प्यार आता है तुम पर..
वो मुस्कुरा कर बोले और तुम्हे आता ही क्या है।

 


बचपन में तो शामें भी हुआ करती थी,
अब तो बस सुबह के बाद रात हो जाती है !

 



मजबूर नही करेंगे तुझे वादे निभानें के लिए,

बस एक बार आ जा, अपनी यादें वापस ले जाने के लिए..!!

 


तुझसे मैँ इजहार ऐ मोहब्बत इसलिए भी नही करता,
सुना है बरसने के बाद बादलो की अहमियत नही रहती|

 


कागज अपनी क़िस्मत से उड़ता है और पतंग अपनी काबिलियत से,
क़िस्मत साथ दे या न दे पर काबिलियत जरुर साथ देगी..!!

 


“जान” थी वो मेरी, और जान तो
एक दिन चली ही जाती है ना..!!

 


हर मर्ज़ का इलाज़ मिलता था उस बाज़ार में,
मोहब्बत का नाम लिया दवाख़ाने बन्द हो गये |


Read More Best Hindi Shayari Main Tere layak nahi shayari 

Recent search terms:

  • हारी हुई लडकी शायरी

About Funnyjoke

Hello doston ! FunnyJoke.IN par aapaka bahot bahot svaagat hai. Main ek professional blogger hu! Is blog pe aap un articles Funny Jokes ya Paheli ko padhenge jinse aap apne Jiwan Me muskuraahat Ki Wajhe Maan Sakte Hai..

View all posts by Funnyjoke →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *